छत्तीसगढ़

 राजधानी के टाटीबंध में 10 लाख रूपए से अधिक मूल्य के खैर तथा तेंदू आदि प्रजाति के लकड़ी का गोला जब्त
Posted Date : 29-Oct-2020 2:45:05 pm

राजधानी के टाटीबंध में 10 लाख रूपए से अधिक मूल्य के खैर तथा तेंदू आदि प्रजाति के लकड़ी का गोला जब्त

    रायपुर वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार राज्य में वन विभाग द्वारा वन अपराधों की रोकथाम के लिए अभियान चलाकर लगातार छापेमार कार्रवाई की जा रही है। इस कड़ी में कल राजधानी रायपुर के टाटीबंध स्थित सी.जी. जैन के परिसर में 10 लाख रूपए से अधिक मूल्य के दो ट्रक खैर, तेंदु, कुर्रू तथा पापड़ा प्रजाति के लकड़ी का गोला पकड़ा गया। प्रधान मुख्य वन संरक्षक श्री राकेश चतुर्वेदी के मार्गदर्शन में मुख्य वन संरक्षक श्री जनक राम नायक के निर्देशानुसार गठित विभागीय टीम द्वारा मुखबिर की सूचना के आधार पर तत्काल मौके पर जाकर छापेमार कार्रवाई की गई। यहां बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के सरसींवा निवासी मनीष अग्रवाल द्वारा उड़ीसा से अवैध रूप से लाकर उक्त प्रजाति के लकड़ी का गोला रखा गया था। टीम द्वारा पकड़े गए 600 नग उक्त प्रजाति के लकड़ी की अनुमानित मात्रा 15 घन मीटर है। इसमें संबंधित आरोपी मनीष अग्रवाल के खिलाफ वन अपराध के तहत प्रकरण दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई जारी है। वनमण्डाधिकारी श्री बी.एस. ठाकुर के कुशल निर्देशन में उक्त कार्रवाई में उप वनमण्डलाधिकारी श्री व्ही. मुखर्जी, वन परिक्षेत्र अधिकारी श्री फिरोज वेग, श्री सुधाकर सिंदे, श्री सामंतराय, श्री वशीम कासिफ, श्री राजू माथुर आदि विभागीय अमले का सराहनीय योगदान रहा।

राज्य सूचना आयुक्त पवार ने कानून की परिधि में रहकर आदेश पारित किए- मुख्य सूचना आयुक्त
Posted Date : 29-Oct-2020 2:21:16 pm

राज्य सूचना आयुक्त पवार ने कानून की परिधि में रहकर आदेश पारित किए- मुख्य सूचना आयुक्त

सेवा निवृत्ति पर पवार की भावभीनी बिदाई

रायपुर । छत्तीसगढ़ राज्य सूचना आयोग के सूचना आयुक्त श्री मोहन राव पवार को सेवा निवृत्ति होने पर कल राज्य सूचना आयोग में भावभीनी बिदाई दी गई। इस मौके पर मुख्य सूचना आयुक्त श्री एम. के. राउत ने कहा कि राज्य सूचना आयुक्त श्री पवार आयोग में कुशलता से कार्य सम्पादित किए और कानून की परिधि में रहकर आयोग के द्वितीय अपील के प्रकरणों में आदेश पारित किए। उन्होंने कहा कि यद्यपि श्री पवार प्रशासनिक क्षेत्र से नहीं थे किन्तु व्यावहारिक और कानूनी ज्ञान रखते थे। उन्होंने सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धाराओं का अनुपालन करते हुए आयेाग में द्वितीय अपील के प्रकरणों में आदेश पारित किए।   राज्य सूचना आयुक्त श्री अशोक अग्रवाल ने कहा कि सूचना आयुक्त श्री मोहन राव पवार का व्यवहार सरल, सौम्य था। उन्हे सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 की धाराओं का काफी ज्ञान था और वे राज्य में सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत आयोजित कार्यशालाओं में सहज रूप से ज्ञान बांटते थे। श्री पवार के साथ आयोग में 3 वर्ष का साथ रहा, जो महत्वपूर्ण था। सूचना आयुक्त श्री मोहन राव पवार ने आयोग से अपनी बिदाई बेला में कहा कि आयोग में काम सीखने का बहुत अवसर मिला। हमें हमेशा विचारों का आदान-प्रदान करते रहना चाहिए, जिससे संवादहीनता समाप्त हो जाती है। उन्होंने कहा कि पद, प्रतिष्ठा का अभिमान नहीं होना चाहिए। राज्य सूचना आयुक्त श्री पवार की बिदाई समारोह के अवसर पर सचिव श्री आई.आर.देहारी ने भी अपने विचार व्यक्त किए। राज्य सूचना आयुक्त श्री पवार को छत्तीसगढ़ राज्य सूचना आयोग की ओर से शाल श्रीफल और स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संयुक्त संचालक श्री धनंजय राठौर, अवर सचिव श्रीमती आभा तिवारी, स्टाफ आफिसर सर्वश्री अशोक तिवारी, ए. के. सिंह, एस. आर. दीवान सहित अधिकारी, कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

स्वास्थ्य विभाग में रिक्त पदों की भर्ती हेतु पात्र-अपात्र सूची जारी
Posted Date : 29-Oct-2020 1:54:58 pm

स्वास्थ्य विभाग में रिक्त पदों की भर्ती हेतु पात्र-अपात्र सूची जारी

न्याय साक्षी/रायगढ़। रायगढ़ जिले के ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक पुरूष/एमपीडब्ल्यू (पुरूष) के रिक्त पदों पर सीधी भर्ती हेतु 21 अक्टूबर 2020 को दस्तावेज सत्यापन समिति के द्वारा मूल दस्तावेजों का सत्यापन किया गया। दस्तावेजों का परीक्षण एवं छानबीन करने के उपरांत पात्र-अपात्र सूची जारी किया गया है। पात्र-अपात्र की सूची कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय, रायगढ़ के सूचना पटल पर चस्पा किया गया है तथा जिले के वेबसाईट तथा विभागीय वेबसाईट में अपलोड किया गया है। इस संबंध में अन्य विस्तृत जानकारी उक्त वेबसाईट पर अवलोकन किया जा सकता है।

 

सहायक शिक्षक भर्ती हेतु दस्तावेज परीक्षण कार्य अपरिहार्य कारणों से हुआ स्थगित
Posted Date : 29-Oct-2020 1:54:40 pm

सहायक शिक्षक भर्ती हेतु दस्तावेज परीक्षण कार्य अपरिहार्य कारणों से हुआ स्थगित

पृथक से जारी की जाएगी आगामी तिथि
न्याय साक्षी/रायगढ़। जिला शिक्षा कार्यालय से मिली जानकारी अनुसार सीधी भर्ती के सहायक शिक्षक विज्ञान (प्रयोगशाला) तथा अंग्रेजी माध्यम सहायक शिक्षक (विज्ञान/कला समूह) के अभ्यर्थियों का दस्तावेज परीक्षण कार्य अपरिहार्य कारणों से आगामी आदेश तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। दस्तावेज परीक्षण के लिए आगामी तिथि की सूचना रायगढ़ जिले की वेबसाइट पर उपलब्ध करवायी जाएगी। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी कार्यालयीन समय में जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में संपर्क कर सकते हैं।

 

ईद-ए-मिलाद पर्व के दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु कार्यपालिक दण्डाधिकारियों की लगी ड्यूटी
Posted Date : 29-Oct-2020 1:54:21 pm

ईद-ए-मिलाद पर्व के दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु कार्यपालिक दण्डाधिकारियों की लगी ड्यूटी

न्याय साक्षी/रायगढ़। अनुविभागीय दण्डाधिकारी रायगढ़ ने 30 अक्टूबर 2020 को ईद-ए-मिलाद पर्व के दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु कार्यपालिक दण्डाधिकारियों की ड्यूटी लगाई है। जिसमें थाना सिटी कोतवाली रायगढ़ क्षेेत्रान्तर्गत तहसीलदार/कार्यपालन दण्डाधिकारी रायगढ़ सीमा पुष्पा पात्रे (मोबा.नं.8319386575), थाना जूटमिल चौकी, रायगढ़ क्षेत्रान्तर्गत नायब तहसीलदार/ कार्यपालन दण्डाधिकारी रायगढ़  विक्रांत सिंह राठौर (मोबा.नं.9131580227)तथा थाना चक्रधर नगर रायगढ़ क्षेत्रान्तर्गत नायब तहसीलदार /कार्यपालन दण्डाधिकारी रायगढ़ रूचिका अग्रवाल (मोबा.नं.8103610112)की ड्यूटी लगाई गई है।

 

राज्य स्थापना दिवस 1 नवंबर को शासकीय भवनों में रोशनी करने के निर्देश
Posted Date : 29-Oct-2020 1:54:09 pm

राज्य स्थापना दिवस 1 नवंबर को शासकीय भवनों में रोशनी करने के निर्देश

न्याय साक्षी/रायगढ़। राज्य शासन द्वारा निर्णय लिया गया है कि कोविड-19 के संक्रमण के कारण इस वर्ष राज्य स्थापना दिवस राज्योत्सव आयोजित नहीं किया जायेगा। राज्य स्तर पर मुख्यमंत्री निवास में केवल राज्य अलंकरण समारोह का वर्चुअल आयोजन किया जायेगा। छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा समस्त शासकीय विभाग प्रमुखों को छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस 1 नवंबर 2020 की रात्रि में सभी शासकीय भवनों पर रोशनी करने हेतु निर्देशित किया है। उन्होंने कहा कि उक्त व्यवस्था पर होने वाले व्यय संबंधित प्रशासकीय विभाग अपने विभागीय बजट से वहन करेंगे।