खेल-खिलाड़ी

कोहली के न रहने से आस्ट्रेलिया को होगा फायदा : बॉर्डर
Posted Date : 15-Dec-2020 11:52:13 am

कोहली के न रहने से आस्ट्रेलिया को होगा फायदा : बॉर्डर

नई दिल्ली। आस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज और पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर ने कहा है कि विराट कोहली के आखिरी तीन टेस्ट मैचों में न होने से आस्ट्रेलिया को फायदा होगा और इन मैचों में आस्ट्रेलिया की जीत की प्रबल दावेदार होगी।
कोहली गुरुवार से एडिलेड में शुरू हो रहे पहले टेस्ट मैच के बाद अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए भारत लौट लेंगे। वह आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी तीन मैचों में नहीं खेलेंगे।
कोहली की गैरमौजूदगी पर बॉर्डर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मीडिया से बात करते हुए कहा, मुझे लगता है
कि वह भारतीय लाइन-अप में बहुत बड़ा गैप रहेंगे। उनकी मैदान पर मौजूदगी बड़ी बात है। आस्ट्रेलियाई गेंदबाज इस बात से खुश होंगे कि उन्हें कोहली को गेंदबाजी नहीं करनी पड़ेगी। वह एडिलेड में खेलेंगे और कोशिश करेंगे कि भारत को अच्छी शुरुआत दिलाएं। उनके बिना खेलना मुश्किल होगा। वह जिन मैचों में नहीं खेलेंगे उनमें आस्ट्रेलिया जीत की प्रबल दावेदार रहेगी। वहीं भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि कोहली की गैरमौजूदगी आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के लिए राहत की बात होगी लेकिन भारतीय खिलाडिय़ों को उनकी गैरमौजूदगी में थोड़ा अतिरिक्त प्रयास करना होगा। गावस्कर ने कहा, इसमें कोई शक नहीं है कि कोहली के न रहने से आस्ट्रेलिया को बड़ा फायदा होगा।
उन्होंने आस्ट्रेलिया में 12 मैचों में छह शतक बनाए हैं। इसलिए आखिरी तीन मैचों में आस्ट्रेलियाई गेंदबाज उन्हें गेंदबाजी नहीं करते हैं तो यह उनके लिए राहत की बात होगी। लेकिन जहां तक भारत की बात है जब भी वह नहीं खेले हैं भारत जीता है। धर्मशाला टेस्ट में वह नहीं थे तब भारत जीता था। अफगानिस्तान के खिलाफ वह नहीं थे तो भारत जीता था। उनके बिना भारत ने एशिया कप और निदास ट्रॉफी जीती। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज ने कहा, भारत की तरफ से कोई न कोई उनकी कमी पूरी करेगा। भारत के लिए यह एक मौका है कि वह अपने खेल के स्तर को थोड़ा और ऊपर उठाए और उनकी गैरमौजूदगी में हर कोई थोड़ा अतिरिक्त प्रयास करे और उनकी कमी की भरपाई करें।

गावस्कर, बॉर्डर की पृथ्वी शॉ को सलाह, शॉट सेलेक्शन पर दे ध्यान
Posted Date : 15-Dec-2020 11:51:50 am

गावस्कर, बॉर्डर की पृथ्वी शॉ को सलाह, शॉट सेलेक्शन पर दे ध्यान

नई दिल्ली।  पृथ्वी शॉ को भारत के प्रतिभाशाली युवा खिलाडिय़ों में गिना जाता है और इस युवा बल्लेबाज को दुनिया के दो महान बल्लेबाजों – सुनील गावस्कर और एलन बॉर्डर ने सलाह देते हुए कहा कि उन्हें अपने शॉट सेलेक्शन पर ध्यान देना चाहिए। भारत और आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तानों का मानना है कि आस्ट्रेलियाई पिचों पर शॉ को थोड़ा संभलकर खेलने की जररूत है।
बॉर्डर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मीडिया से बात करते हुए कहा, मैं जानता हूं कि आप लोग शॉ को काफी अच्छा बल्लेबाज मानते हैं, लेकिन मेरे हिसाब से वह गेंद को जल्दी में खेल जाते हैं। फ्लैट ट्रैक पर नई गेंद से तो यह ठीक है लेकिन आस्ट्रेलिया में आपको अपने शॉट सेलेक्शन को लेकर ज्याता सतर्क रहना पड़ता है। मेरे हिसाब से वह ऑफ स्टम्प के बाहर थोड़ा कमजोर हैं।
गावस्कर बॉर्डर की बात से पूरी तरह से सहमत दिखे। उन्होंने साथ ही कहा कि शॉ को अपने डिफेंस पर काम करने की जरूरत है। गावस्कर ने कहा, मैं बॉर्डर से सहमत हूं। मुझे लगता है कि उन्हें अपने खेल की समीक्षा करने के लिए समय लेना चाहिए क्योंकि एक सलामी बल्लेबाज के तौर पर आपको अपने आप को समय देना होता है, कि पिच क्या कर रही है, गेंदबाज क्या कर रहे हैं। वह इस समय जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे हैं वह उससे निरंतर रन नहीं कर पाएंगे। वह कभी-कभार रन लेंगे लेकिन उन्हें अपने डिफेंस को मजबूत करने की जरूरत है। मैं बॉर्डर से सहमत हूं कि वह पारी की शुरुआत से ही बहुत ज्यादा शॉट खेल रहे हैं।
शॉ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पदार्पण किया था और पहले ही मैच में शतक जमाया था। वह पिछले आस्ट्रेलियाई दौरे पर चोट के कारण बाहर हो गए थे। इस बार दो अभ्यास मैचों में शॉ ने प्रभावित नहीं किया है। दूसरे अभ्यास मैच में शॉ ने 40 और 3 रनों की पारियां खेली। पहले अभ्यास मैच में उन्होंने 0 और 19 रनों की पारियां खेली थी। पहले टेस्ट में मयंक के साथ पारी की शुरुआत करने कौन आएगा इसमें शॉ और शुभमन गिल में प्रतिस्पर्धा है।

न्यूजीलैंड ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट में दी करारी मात, टेस्ट रैंकिंग में पहले पायदान के करीब पहुंची
Posted Date : 14-Dec-2020 11:46:27 am

न्यूजीलैंड ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट में दी करारी मात, टेस्ट रैंकिंग में पहले पायदान के करीब पहुंची

वेलिंग्टन। न्यूजीलैंड की टीम आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन के काफी करीब पहुंच गई है। वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज जीत के साथ ही वह 116 अंक पर पहुंच गई है। ऑस्ट्रेलिया के भी 116 अंक हैं। लेकिन दशमलव की अंक गणना के आधार पर ऑस्ट्रेलिया अब भी नंबर वन है। ऑस्ट्रेलिया के 116. 461 और न्यूजीलैंड के 116.375 अंक हैं। सोमवार को उसने वेस्टइंडीज को सीरीज के दूसरे टेस्ट में पारी और 12 रन से हरा दिया। इसके साथ ही उसने सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली। वेस्टइंडीज ने चौथे दिन अपनी पारी 6 विकेट पर 244 रन से शुरू की। वह न्यूजीलैंड से अभी 85 रन पीछे था। पहली पारी के आधार पर वेस्टइंडीज ने न्यूजीलैंड पर 329 रन की बढ़त बनाई थी। वेस्टइंडीज की दूसरी पारी आखिरकार 317 रन पर सिमट गई। यह सीरीज में उनका सर्वोच्च स्कोर रहा।
न्यूजीलैंड ने चौथे दिन खेल की अच्छी शुरुआत की। उन्होंने वेस्टइंडीज के कप्तान जेसन होल्डर को दिन के चौथे ओवर में आउट कर दिया। होल्डर ने 61 रन बनाए। उन्होंने जोशुआ डा सिल्वा के साथ 82 रन की साझेदार की। होल्डर को टिम साउदी ने बोल्ड किया।अलजारी जोसफ ने अपनी 24 रन की पारी में दो छक्के और तीन चौके लगाए। वह साउदी की ही गेंद पर विकेटकीपर बीजे वॉल्टिंग का शिकार बने। यह मैच में साउदी का सातवां विकेट था। टेस्ट क्रिकेट में साउदी के नाम अब 296 विकेट हैं। वह रिचर्ड हेडली और डेनियल विटोरी के बाद 300 टेस्ट विकेट लेने वाले कीवी गेंदबाज बनने के करीब पहुंच गए हैं।
विकेटकीपर डा सिल्वा ने अपने डेब्यू मैच में 77 गेंद पर हाफ सेंचुरी लगाई। उन्हें नील वेगनर ने रुक्चङ्ख किया। आखिरी विकेट के रूप में शैनन गैबरियल आउट हुए। इसके साथ ही न्यूजीलैंड के आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में 116 अंक हो गए हैं। वह आईसीसी टेस्ट टीम रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया के साथ पहले पायदान पर पहुंच गई है। भारतीय टीम अब 114 रेटिंग अंकों के साथ तीसरे पायदान पर है।

कोहली के खिलाफ पहले टेस्ट में मुझे बढ़त होगी : हेजलवुड
Posted Date : 13-Dec-2020 2:27:21 pm

कोहली के खिलाफ पहले टेस्ट में मुझे बढ़त होगी : हेजलवुड


नई दिल्ली।  तीन मैचों की वनडे सीरीज में विराट कोहली को तीन बार आउट करने वाले आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने कहा है कि 17 दिसंबर से एडिलेड में होने वाले पहले टेस्ट मैच में उन्हें कोहली के खिलाफ थोड़ी बहुत मानसिक बढ़त हासिल होगी।
हेजलवुड ने कहा कि पहला टेस्ट जो दिन-रात प्रारूप में खेला जाएगा वो एक नई शुरुआत होगी। इस मैच के बाद कोहली अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए स्वदेश लौट लेंगे।
हेजलवुड ने कहा, नहीं मुझे नहीं लगता कि मुझे उनके खिलाफ एडवांटेज होगा। सफेद गेंद से उनके खिलाफ मेरी किस्मत ने साथ दिया। इससे आप अगले प्रारूप में मदद ले सकते हैं। लेकिन मुझे लगता है कि यह एक नई शुरुआत होगी। गुलाबी गेंद से अलग कहानी होती है। उन्होंने पिछले साल लाल गेंद से रन किए थे।
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि उनके खिलाफ शुरुआत करना भी अहम है। हम उनके खिलाफ एक टेस्ट में दो ही पारियों में खेलेंगे। यह जरूरी है कि हम उनके खिलाफ अच्छी शुरुआत करें और उन पारियों में उनके प्रभाव को खत्म करें।
हेजलवुड ने गुलाबी गेंद से गेंदबाजी करने की चुनौती पर भी बात की। उन्होंने कहा कि उनकी टीम लाइट्स में गेंदबाजी करना पसंद करेगी क्योंकि गेंद लाइट्स में ज्यादा मूव करती है।
हेजलवुड ने कहा, हां, जाहिर बात है.. मुझे लगता है कि रात में मैच का समय जल्दी निकलता है, खासकर जब आप तेज गेंदबाजी कर रहे हो।
उन्होंने हालांकि इस बात को माना कि फायदा इस बात पर भी निर्भर करता है कि गेंद नई है या पुरानी।
उन्होंने कहा, लेकिन यह निर्भर करता है कि आपके पास किस तरह की गेंद है। आपके पास रात में नई गेंद है, अगर हम हमारा इंग्लैंड दौरा देंखे तो जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड रात में गेंद को स्विंग करा रहे थे और मैच जल्दी ही खत्म हो रहा था। इसके उलट जब आपके पास रात में पुरानी गेंद होती है और दो बल्लेबाज सेट हैं तो यह काफी आसान हो जाता है। यह इस बात पर निर्भर करता है कि नई गेंद कब आती है।
हेजलवुड ने कहा कि डे-नाइट टेस्ट में पहले गेंदबाजी करना आसान नहीं होता है।
उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि अगर आप पहले बल्लेबाजी करते हो तो आपको फायदा है।
 

 

जॉर्डन सिल्क ने की हैरतअंगेज फील्डिंग, हवा में उड़कर रोका छक्का
Posted Date : 13-Dec-2020 11:43:49 am

जॉर्डन सिल्क ने की हैरतअंगेज फील्डिंग, हवा में उड़कर रोका छक्का

नई दिल्ली।  बिग बैश लीग  के 10वें सीजन की शुरुआत हो चुकी है और पहले ही मैच में शानदार फील्डिंग का नजारा देखने को मिला. हॉबर्ट हेरीकेन्स और सिडनी सिक्सर्स की टीमें आमने सामने थी. हेरीकेन्स के कॉलिन इंग्राम  बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्होंने शानदार शॉट खेला. हालांकि सिडनी सिक्सर्स के खिलाड़ी जॉर्डन सिल्क  ने जबरदस्त फील्डिंग करते हुए अपनी टीम के लिए रन बचाए. सिडनी सिक्सर्स के खिलाड़ी जॉर्डन सिल्क  ने इंग्राम का छक्का रोकने के लिए जिस तरह फील्डिंग की उसे देखकर सब हैरान रह गए. दरअसल उन्होंने बाउंड्री पर छंलाग लगाई और फिर हवा में ही रहकर गेंद को मैदान में फेंक दिया. जॉर्डन को ऐसा हवा में उड़कर रन बचाने के लिए लोग उन्हें सुपरमैन बुला रहे हैं. जॉर्डन सिल्क की फील्डिंग का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.
ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व बल्लेबाज एडम गिलक्रिस्ट भी जॉर्डन  के इस कमाल को देखकर उनके मुरीद हो गए हैं.
गिलक्रिस्ट ने कहा है कि, 'सिल्क सुपरमैन की तरह हवा में उड़ा और उसने टीम के लिए चार महत्वपूर्ण रन बचाएÓ.
इतना ही नहीं जॉर्डन सिल्क पहले भी फील्डिंग में ऐसा कमाल कर चुके हैं और दुनिया के महान क्रिकेटर विव रिचर्ड्स ने उनकी फील्डिंग की जमकर तारीफ की थी.

अमनदीप द्राल ने जीता आठवें चरण का खिताब
Posted Date : 12-Dec-2020 11:48:03 am

अमनदीप द्राल ने जीता आठवें चरण का खिताब

गुरुग्राम। पिछले सप्ताह सातवें चरण में उपविजेता और प्रोफेशनल में शीर्ष स्थान पर रहीं अमनदीप द्राल ने हीरो महिला प्रो गोल्फ टूर के आठवें चरण के तीसरे दिन शुक्रवार को तीसरे और अंतिम राउंड में अपनी बढ़त कायम रखते हुए खिताब जीत लिया। अमनदीप को इस जीत से डेढ़ लाख रुपये की पुरस्कार राशि मिली।
डीएलएफ गोल्फ एंड कंट्री क्लब में खेले गए आठवें चरण में अमनदीप दूसरे राउंड के बाद पांच शॉट की मजबूत बढ़त के साथ सबसे आगे चल रही थीं। अमनदीप ने आखिरी राउंड में अंतिम चार होल में दो बर्डी लगाई और सेहर अटवाल की चुनौती पर काबू पा लिया। अमनदीप इस जीत के साथ आर्डर ऑफ मेरिट में पहले स्थान पर पहुंच गयी हैं।
अमनदीप ने एक ओवर 73 का कार्ड खेल कर तीन शॉट के अंतर से जीत हासिल की। अटवाल ने आखिरी राउंड में 71 का कार्ड खेला। अमनदीप ने इससे पहले चौथे चरण का खिताब जीता था और सातवें चरण में शीर्ष प्रोफेशनल रही थीं । अटवाल का स्कोर तीन अंडर 213 रहा जबकि अटवाल का स्कोर 216 रहा।
जाह्नवी बक्शी ने दिन का तीन अंडर 69 का सर्वश्रेष्ठ कार्ड खेला और नौंवें स्थान से उठकर तीसरा स्थान हासिल कर लिया। जाह्नवी का स्कोर चार ओवर 220 रहा।